munga ratna ki pahchan | red coral stone benefits - Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

Latest

Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

ourbhakti.com - पर आपका स्वागत हैं यहाँ से आप हिन्दू धर्मं से सम्बंधित जानकारी जैसे ज्योतिष विज्ञान ,पूजा पाठ ,ग्रह शांति , हवन ,व्रत कथा ,वास्तु ,राशिफल, साथ ही सनातन धर्मं की रोचक जानकारी पा सकते हैं ।

munga ratna ki pahchan | red coral stone benefits

munga ratna ki pahchan | red coral stone benefits|मूंगा रत्न की पहचान 

munga ratna ki pahchan]red coral stone benefits
munga ratna ki pahchan | red coral stone benefits
हमारा यही प्रयास रहता है कि हम जब भी मूंगा  रत्न धारण करें वो वाकई असली मूंगा हो इसको जानने के लिए हमें मूंगा रत्न की परख करनी होगी asli munga ratna ki pahchan हमेशा चिकना या फिसलन वाला होता है 

यदि वह नकली मूंगा होगा तो उसमें फिसलन या चिकनाहट नहीं होगी मूंगा को सही तरीके से जाचनेके लिए मूंगा के ऊपर एक बूंद पानी टपकादे गिरा दे 

अगर मूंगा असली होगा तो उसमें पानी नहीं रुकेगा यदि वह मूंगा नकली हैं तो  उसमें पानी रुक जायेगा  मूंगा रत्न  कहीं से कटा फटा नहीं होना चाहिए और ना ही किसी प्रकार के दाग धब्बे होने चाहिए।

मंगल ग्रह का रत्न है मूंगा  यह कोई पत्थर नहीं है मूंगा समुद्र के वनस्पतियों में पाया जाता है यदि किसी की जन्मपत्री में मंगल ग्रह कमजोर होतो मूंगा रत्न धारण किया जाता है

 ज्योतिष में दो तरह के मूंगे का प्रयोग किया जाता है 1. नारंगी रंग का मूंगा और दूसरा 2. इटालियन मूंगा

 


मूंगा रत्न पहनने का नियम
munga ratna ki pahchan]red coral stone benefits

munga ratna ki pahchan

वैसे तो मूंगे को सोने की अंगूठी में जड़वा कर पहनना चाहिए लेकिन सभी के पास सोने जैसे महंगे धातु को खरीदने के लिए पैसे पर्याप्त मात्रा में नहीं होते

ऐसी स्थिति में चांदी की अंगूठी में थोड़ा सोना मिला कर मूंगा को धारण करना चाहिए नहीं तो मूंगा रत्न को तांबे की अंगूठी में जड़वा कर भी पहन सकते हैं

भारतीय ज्योतिष के नियमानुसार शुक्ल पक्ष के  सुबह सूर्य उदय के बाद मूंगा की पूजा करके अपने दाएं या बाएं हाथ के अनामिका उंगली में धारण करना चाहिए मूंगा का वजन कम से कम पांच रत्ती तो होना ही चाहिए।

Munga stone benefits | मूंगा रत्न के फाएदा 

यदि कुंडली में मंगल ग्रहअच्छी स्थिति में हेऔर वो अपना फल सही से नहीं दे रहा हे तभी मूंगा रत्न पहनना चाहिए मूंगा रत्न के कई सरे फायेदे हे

 यदि आप मानसिक रूप से कमजोर हे आत्म बल नहीं हे आप में साहस नहीं हे आप डरपोक हे तो एसे में मूंगा धारण करने से बहुत फायेदा होता हे।

जहा मूंगा रत्न फायेदा करता हे तो यह रत्न नुक्सान भी करता हे अगर कुंडली में मंगलग्रह की स्थिति सही नहीं हे और आप ने मूंगा पहन लिया एसे में इसके विपरीत परिणाम भी मिलते हे।

मूंगा रत्न जब भी धारण करने की सोचे तो कम से कम एक बार किसी जानकर से सलाह जरुर ले उसके बाद ही इस रत्न को धारण करे।मूंगा रत्न पहनना कोई मजाक नहीं हे इसको गंभीरता से बिचार करना चाहिए 

हम आसा करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा यदि आपको मूंगा रत्न से सम्बंधित व्यक्तिगत सलाह चाहिए तो हम से संपर्क करे।

अगर आप लोगो के पास कोई भी सवाल या सुझाब हो तो आप comment में पूछ सकते हैं अपना कीमती समय देने के लिए धनयबाद  ।


                                               कोई भी समस्या हो रत्न से करे समाधान
TAG-munga ratna ki pahchan | red coral stone benefits | मूंगा रत्न के फाएदा

No comments:

Post a comment

इस लेख से सम्बंधित अपने विचार कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं