स्त्रियों को शालिग्राम का पूजा स्पर्श करना चाहिए या नहीं? - Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

Latest

Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

ourbhakti.com - पर आपका स्वागत हैं यहाँ से आप हिन्दू धर्मं से सम्बंधित जानकारी जैसे ज्योतिष विज्ञान ,पूजा पाठ ,ग्रह शांति , हवन ,व्रत कथा ,वास्तु ,राशिफल, साथ ही सनातन धर्मं की रोचक जानकारी पा सकते हैं ।

स्त्रियों को शालिग्राम का पूजा स्पर्श करना चाहिए या नहीं?

 विवाहित स्त्रियों को शालिग्राम का पूजन  स्पर्श करना चाहिए या नहीं, shaligram ka pujan istriya kyu nahi kr sakti?

स्त्रियों को शालिग्राम का स्पर्श करना चाहिए या नहीं ?क्या विवाहित स्त्रियां भगवान शालिग्राम का पूजन कर सकती हैं ?क्या नारी को शालिग्राम स्पर्श करने का अधिकार नहीं है?लड़कियां भगवान शालिग्राम का स्पर्श या पूजन करें या नहीं?

shaligram puja istriya nahi kar sakti

हिंदू धर्म दुनिया का सबसे बड़ा धर्म है इसको समझना बहुत ही आसान है लेकिन कुछ अज्ञानी लोगों ने इसमें भ्रांतियां फैला दी है जिसके कारण सनातन धर्म में अनेक प्रकार के प्रश्न चिन्ह लगे हुये हैं।

आज का हमारा विषय है स्त्रियों को शालिग्राम का स्पर्श करना चाहिए की नहीं तो चलिए आज हम इसी विषय पर विस्तार पूर्वक बात करेंगे।

स्पष्ट शब्दों में बतादू महिलाये और विवाहित स्त्री को शालिग्राम का स्पर्श नहीं करना चाहिये विवाहित स्त्रियां
भगवान शालिग्राम का स्पर्श नहीं कर सकती और पूजन भी नहीं कर सकती इस बात की पुष्टि स्वयं निर्णय सिंधु  पुस्तक करती है आप नीचे श्लोक देख सकते हैं।

असत्छुद्रगतं दासं निषेधं विद्धि मानद् !
 स्त्रीणामपिच साध्वीनां नैवाभावः प्रकीर्तिताः ||

अब दूसरा प्रश्न स्त्रियों के सामने यह उठता है कि हमारे घर में कोई पुरुष पूजा नहीं करते हैं या उनको पूजा करने का समय ही नहीं मिलता है।

नित्य पूजा स्त्रियों को ही करना पड़ता है ऐसे में हम क्या करें? इस समस्या का समाधान स्कंद पुराण में मिल जाएगा लेकिन इसका उत्तर जानने के बाद महिलाओं को स्वयं विचार करना चाहिए कि उन्हें शालिग्राम का स्पर्श करना चाहिए या नहीं

जिन स्त्रियों का मन पवित्र हैं, पूर्ण रूप से पतिव्रता हैं, मन में किसी पर पुरुष के लिए गलत भावना नहीं हैं, अपने पति को ही सर्वस्व मानती हैं

पति और अपने परिवारों के लिए ही जीती है ऐसी स्त्रियां नारियां भगवान शालिग्राम का पूजन व उनका स्नान कर सकती है उनको कुछ दोष नहीं लगता।

अब वह महिलाएं खुद विचार करें कि उन्हें भगवान शालिग्राम का पूजन करना चाहिए कि नहीं।

आप लोगों ने एक बात गौर किया होगा जब भी आप? किसी विद्वान से यह प्रश्न करते हैं कि भगवान शालिग्राम का स्पर्श नारियों को करना चाहिए कि नहीं तो वे फट से उत्तर देते हैं कि नारियों को भगवान शालिग्राम का स्पर्श कभी नहीं करना चाहिये।

वह विद्वान पुरुष शायद इसीलिए ऐसा कहते हैं कि इस कलयुग में सभी स्त्रियों का मन पवित्र नहीं हो सकता मन कभी कभी भटक  जाता है। 

ऐसे में अगर किसी नारी ने शालिग्राम का स्पर्श  कर लिया तो उसे बहुत बड़ा पाप लगेगा इससे अच्छा तो यही कह दिया जाए कि नारियों को शालिग्राम का स्पर्श करना ही नहीं चाहिए।

क्या लड़किया शालिग्राम भगवान का पूजन कर सकती हैं? 

क्या लड़किया शालिग्राम भगवान का पूजन कर सकती हैं?

उपर जितनी भी बातें बताई गई हैं वो सब विवाहित स्त्रियों के लिये ही मान्य हैं अब रही बात लड़कीयों को शालिग्राम पूजा करने की तो आपको बतादू इसमें उनको कोई दोष नहीं लगता लडकिया शालिग्राम भगवान् का पूजन व स्नान कर सकती हैं। 

लडकिया भगवान् से अपने भावी वैवाहिक जीवन में सुख शांति व पति से अधिक प्रेम की प्राप्ति हेतु इनकी पूजा कर सकती हैं।


our bhakti का उद्देश्य किसी नारी के मन को ठेस पहुंचाना नहीं है।शालिग्राम भगवान् से सम्बंधित आप हमारे ये पोस्ट भी पढ़ सकते हैं।
Tag-kya nariyo ko bhagwan shaligram ka is para nahi karna chahiye, kya distrito ko shaligram nahi chuna chahiye,क्या नारियों को भगवान शालिग्राम का स्पर्श करना चाहिए,  क्या स्त्रियों को भगवान शालिग्राम का स्पर्श नहीं करना चाहिए

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

इस लेख से सम्बंधित अपने विचार कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं