एसे होता हैं शालिग्राम भगवान् का विशेष पूजन - Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

Latest

Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

ourbhakti.com - पर आपका स्वागत हैं यहाँ से आप हिन्दू धर्मं से सम्बंधित जानकारी जैसे ज्योतिष विज्ञान ,पूजा पाठ ,ग्रह शांति , हवन ,व्रत कथा ,वास्तु ,राशिफल, साथ ही सनातन धर्मं की रोचक जानकारी पा सकते हैं ।

एसे होता हैं शालिग्राम भगवान् का विशेष पूजन

भगवान शालिग्राम का पूजन करते समय आप  के मन में प्रश्न तो आते ही होंगे जैसे- घर मैं शालिग्राम भगवान का पूजन कैसे करे ? shaligram bhagwan ki puja kaise kare ? भगवान शालिग्राम का पूजन किस  प्रकार करना चाहिए ?शालिग्राम पूजा के विशेष नियम क्या है? आज हम जानेंगे भगवान शालिग्राम का विशेष पूजा नियम  और  Shaligram Bhagwan  Ki Puja Kaise Kare

Shaligram bhagwan ka pujan kaise kare | शालिग्राम भगवान की पूजा कैसे करें

Shaligram bhagwan ka pujan kaise kare

शालिग्राम भगवान से संबंधित हमने पहले भी कुछ पोस्ट लिखी हुई है आप उनको निचे लिंक से पढ़ सकते हैं अब बात करते हैं 


शालिग्राम भगवान का पूजन कैसे करें सबसे पहले तो मैं बता दूं शालिग्राम भगवान का पूजन वही कर सकता है जो जनेऊ धारी हो

जिसने गायत्री की उपासना की हो जो सूर्य को रोज अर्घ देता हो उसे ही भगवान शालिग्राम का पूजा करने का अधिकार है।

आपको बता दूं जहां शालिग्राम होते हैं वहां सभी दोष स्वत ही दूर हो जाते हैं आजकल आपको बहुत सुनने को मिल रहा है घर में वास्तु दोष है 

वास्तु शांति करा लो जिस घर में भगवान शालिग्राम होते हैं उस घर में किसी भी प्रकार का वास्तु दोष नहीं होता यदि होता भी है तो वह अपने आप दूर हो जाता है 

आपको चिंता करने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है इसीलिए इनकी पूजा पूरी श्रद्धा और विधि विधान से करना चाहिये।

हमारे हिंदू धर्म में ऐसी मान्यता है  भगवान के 24 अवतार  शालिग्राम में ही विराजमान हैं शालिग्राम की पूजा से भगवान के पूरे 24 अवतारों की पूजा हो जाती है।

भगवान का पूजन करने से पहले हमें पूजा की तैयारी करनी चाहिए सबसे पहले तो आप पीला वस्त्र धारण करें उसके बाद पूजा स्थल में कुश के आसन में बैठे

तत्पश्चात दीपक गणेश कलश की पूजा करें आपके पूजा मंडप में जितने भी भगवान है उन सब का ध्यान करते हुए एक-एक फूल उनके ऊपर चढ़ाएं फिर अंत में शालिग्राम भगवान की पूजा करें।

Ghar me shaligram bhagwan ka pujan kaise kare || घर में शालिग्राम भगवान की पूजा कैसे करें?


शालिग्राम की प्राण प्रतिष्ठा नहीं होती इसीलिए हाथ में तुलसी और पुष्प लेकर भगवान शालिग्राम का नीचे दिए गए मंत्र से ध्यान करें फिर पुष्प भगवान को अर्पित करें।

नोट - यदि आपको निचे दिया गया मन्त्र पढने नहीं आता हैं तो आप ॐ नमो भगवते वासुदेवाय बोलकर भी शालिग्राम का पूजन कर सकते हैं 

शालिग्राम भगवान पूजन मन्त्र | shaligram bhagwan pujan mantra

शालिग्राम भगवान पूजन मन्त्र | shaligram bhagwan pujan mantra

ध्यान मंत्र 
सशङ्खचक्रं सकिरीटकुण्डलं सपीतवस्त्रं सरसीरुहेक्षणम् ।
सहारवक्षस्स्थलशोभिकौस्तुभं नमामि विष्णुं शिरसा चतुर्भुजम् 

शान्ताकारं भुजग-शयनं पद्मनाभं सुरेशं
विश्वाधारं गगन-सदृशं मेघवर्ण शुभाङ्गम्।

लक्ष्मीकान्तं कमल-नयनं योगिभिर्ध्यानगम्यम्
वन्दे विष्णुं भवभय-हरं सर्वलोकैक-नाथम्॥

मङ्गलम् भगवान विष्णुः मङ्गलम् गरुणध्वजः।
मङ्गलम् पुण्डरी काक्षः मङ्गलाय तनो हरिः॥
आसन मंत्र 
रम्यं सुशोभनं दिव्यं सर्व सौख्यंकर शुभम।आसनं च मया दत्तं गृहाण परमेश्वरः।।

स्नान मंत्र 

भगवान् शालिग्राम  का विशेष पूजन उनके स्नान से  ही पूर्ण होती हैं  अतः उनका  पहले जल से स्नान  करे  फिर दूध ,दही ,घी ,मधु ,शक्कर ,पंचामृत  से  स्नान  कराये  उसके  बाद  पुरुषसूक्त  का पाठ करते हुये    महाभिषेक करे 

वस्त्र चढाने का मंत्र 
सर्वभूषाधिके सौम्ये लोक लज्जा निवारणे
मयोपपादिते तुभ्यं वाससी प्रतिगृह्यतां।

 जनेऊ चढ़ाये 
ॐ यज्ञोपवीतम् परमं पवित्रं प्रजा-पतेर्यत -सहजं पुरुस्तात
आयुष्यं अग्र्यं प्रतिमुन्च शुभ्रं यज्ञोपवितम बलमस्तु तेजः।।

पीला चन्दन चढ़ाये 
त्वां गन्धर्वा ऽ अखनँस्त्वां इन्द्रस्त्वां बृहस्पतिः। 
त्वामोषधे सोमो राजा विद्वान्यक्ष्मादमुच्यत॥

फूल चढ़ाये 
पुष्पैर्नांनाविधेर्दिव्यै: कुमुदैरथ चम्पकै:।
पूजार्थ नीयते तुभ्यं पुष्पाणि प्रतिगृह्यतां।।

धुप मंत्र
ॐ वनस्पति रसो दिव्य गन्धाढ्यः सुमनोहरः 
मया निवेदिता भक्त्या धूपोहयं प्रतिगृह्यताम

दीप मंत्र 
साज्यं च वर्तिसंयुक्तं वह्निना योजितं मया।
दीपं गृहाण देवेश त्रैलोक्यतिमिरापहम्।।

प्रसाद मंत्र 
त्वदीयं वस्तु गोविन्द तुभ्यमेव समर्पये 
गृहाण सम्मुखो भूत्वा प्रसीद परमेश्वर

आप को हम फिर से बता रहे हैं अगर आपको ये सब मंत्र बोलना नहीं आता हैं तो ॐ नमो भगवते वासुदेवाय बोलकर भी शालिग्राम भगवान् की पूजा कर सकते हो इसमें कोई दोष नहीं लगता यदि आपको इस विषय में अन्य कोई जानकारी चाहिए तो comment के सकते हैं 

TAG-Shaligram bhagwan ka puja,how to worship shaligram ji, shaligram, Tulsi pooja mantra, Tulsi shaligram marriage, worshiped Shaligram,शालिग्राम की पूजा कैसे करें?

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

इस लेख से सम्बंधित अपने विचार कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं