सपनों को समझें सपने क्यों आते हे ?,sapno ko samjhe sapne kyu aate he?

हम जब गहरी नींद में सोते हैं तो कभी कभी सपने में भी देखते हैं उन सपनों में से कोई सपने अच्छे होते हैं कोई सपने बुरे भी होते हैं अच्छे सपने जब हम देखते तो हम खुश हो जाते हैं और जब बुरे सपने देखते हैं तो  मन में एक डर सा लगने लगता है ना जाने यह कौन सी घटना का संकेत है

सपनों को समझें सपने क्यों आते हे ?,sapno ko samjhe sapne kyu aate he?

हम आपको यहां पर बता दें कि सपनों का एक अलग तरह का विज्ञान है। जरूरी नहीं है कि हम जितने भी सपने देखते हैं वह सब सच हो, लेकिन जो सपने  सच हो, या होने वाला हो  उसके पीछे का रहस्य क्या है आज हम इसी विषय पर बात करेंगे।

आखिर क्यों आते हैं सपने

सपने देखना मन की एक विशेष अवस्था है जब हम सपने देख रहे होते हैं उस समय हमें वास्तविकता का बोध होता है। ऐसा लगता है कि यह सब हकीकत में हो रहा है सपने ना तो जागते  हुए आते हैं और ना ही निद्रा के अवस्था में आते हैं सपने उस समय आते हैं जब हम तुरिया अवस्था में होते हैं सोने और जागने के बीच के समय  को तुरिया अवस्था कहते हैं। सपने  आने का बहुत सारा कारण होता है जैसे आपका खान-पान रहन-सहन आप बीमार हैं या स्वस्थ हैं। सपनों के पीछे ग्रह नक्षत्र और राशियां भी जिम्मेदार होती है लेकिन हर सपना सही नहीं होता  ज्यादातर सपनो का कोई मतलब नहीं होता ।

किस तरह के सपने आने से क्या परिणाम होता है

हमारे धर्म ग्रंथ रामचरित मानस में सपनों के विषय में विशेष चर्चा भी हुई है , कभी कभी भविष्य में होने वाली घटनाओं का संकेत भी स्वप्न के माध्यम से मिलता है। शास्त्रों में अलग अलग घटनाओ के माध्यम से सपनों का फल बताया गया है । किस तरह का सपना देखा, कौन से समय मे देखा, इस सब बातों को बिचार करके ही स्वप्न का फल निर्धारित होता हे । हम सपने ज्यादातर अपने मन के प्रभाव से देखते है। सपनों का प्रभाव हमारे जीवन पर बहुत ही कम पड़ता है क्योंकि ज्यादातर सपने हम अपने मन के प्रभाव से देखते हैं, दिन भर में आने वाले विचारों से देखते हैं, या बीमारी  की  वजह से देखते हैं ।हमने किसी विषय वस्तु के बारे में दिनभर सोचा उसकी कल्पना की और रात को वही  चीज सपने में दिखाई दिया ऐसे सपने बिल्कुल निरर्थक होते हैं किसी काम के नहीं होते।

सपने ऐसे बी होते हैं जो भविष्य में होने वाली घटनाओं का संकेत देते हैं।

जब हमारा शरीर पूर्ण रूप से स्वस्थ होता है मन में किसी तरह के विचार नहीं आते ।उस समय रात को जब हम सपना देखते हैं, ऐसे सपने अक्सर सत्य होते हैं और भविष्य में होने वाली घटनाओं को किसी विषय वस्तु के माध्यम से बताते हैं भविष्य के प्रति आपको चेतावनी भी देते हैं कि आप गलती ना करें नहीं तो आने वाले समय में इस प्रकार की घटना घट सकती है।

सपने कब सच होते हैं

ऐसी मान्यता है की जो सपने हम ब्रम्ह मुहूर्त के समय देखते लगभग सुबह चार बजे केआस पास  एसे  सपने की सच होने की संभावना ज्यादा होती हे ।इसलए सुबह के वक़्त देखे गए स्वप्न  के प्रति हमें विचार करना चाहिये ।
सपनों को समझें सपने क्यों आते हे ?,sapno ko samjhe sapne kyu aate he? सपनों को समझें सपने क्यों आते हे ?,sapno ko samjhe sapne kyu aate he? Reviewed by Ourbhakti on December 15, 2018 Rating: 5
Powered by Blogger.