इसलिये डरते हैं Yamraj और shani से - Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

Latest

Our bhakti- ज्योतिष,राशिफल,व्रतकथा,हिन्दु धर्म,

ourbhakti.com - पर आपका स्वागत हैं यहाँ से आप हिन्दू धर्मं से सम्बंधित जानकारी जैसे ज्योतिष विज्ञान ,पूजा पाठ ,ग्रह शांति , हवन ,व्रत कथा ,वास्तु ,राशिफल, साथ ही सनातन धर्मं की रोचक जानकारी पा सकते हैं ।

इसलिये डरते हैं Yamraj और shani से

इसलिये डरते हैं Yamraj और shani से    

Yamraj और shani ये नाम सुनते ही बहुत सारे लोगों के मन मे एक डर सा छा जाता है मन में कुछ घबराहट सी होती है तो चलिये आज हम यमराज के बिषय में कुछ जानने का प्रयास करते है।
yamraj ki jankari |इसलिये डरते हैं Yamraj और shani से जाने मुख्य कारण

दोस्तो यमराज को मृत्यु का देवता कहा जाता है ये दक्षिण दिशा के स्वामी माने जाते है यमराज किसी को डराते नही है बल्कि लोगों के द्वारा किये गए अच्छे बुरे कामो का हिसाब करके उन्हें सजा देते है।

इसका मतलब ये हुआ जिसने अच्छा काम किया उसको अच्छा फल मिलेगा और जिसने बुरा काम किया उस को सजा मिलेगी। 

इसलिए इन्हें धर्मराज भी कहते है। भगवान सूर्यदेव के पुत्र माने जाने वाले यमराज की पूजा नरक चतुर्दशी के दिन विशेष रूप से की जाती है।

 यमराज की जन्म कथा

हिन्दू धर्म ग्रंथ मार्कण्डेय पुराण के अनुसार विष्वकर्मा की पुत्री संज्ञा ने विवाह करने के बाद जब सूर्यदेव को देखा तो भय के मारे अपनी दोनो आँखे बंद करली तब सूर्य देव ने उन्हें श्राप दिया।सूर्य के श्राप से ही देवी संज्ञा ने लोगो के प्राण हारने वाले विराट पुत्र यमराज को जन्म दिया।

यमराज का परिवार

यमराज के माता का नाम संज्ञा है और पिता का नाम सूर्य।
सूर्यदेव के पुत्र होने के साथ साथ यमराज शनि के भाई भी है।
यमराज की पत्नी का नाम यमी है इनकी बहन का नाम यमुना और भाई का नाम श्राद्धदेव मनु है।

कल्याणकारी यमराज का मंत्र

सभी प्रकार के भय को दूर करने के लिये अपना समय अनुकूल बनाने के लिये अपने शरीर के आलस्य को भगाने के लिये यम के इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

।।ॐसूर्यपुत्राय विद्महे महाकालाय धीमहि तन्नो यम:प्रचोदयात्।।

यमराज से जुड़ी 6 बातें 

  1. यमराज दक्षिण दिशा के स्वामी है।
  2. इनका निवास स्थान यम लोक है।
  3. इनके शस्त्र गदा है।
  4. ये भैस पर सवारी करते है।
  5. यम राज लोगो के प्राण हरकर उनको सजा देते है।
  6. ऐसी मान्यता है जो लोग कार्तिक महीने में यमराज को दीप दान करते है ,उन्हें यमराज कभी परेशान नही करते।


                                                                 धन्यबाद


Tag-yamraj,shani yamraj,yamraj aur shani ka sambandh