रामायण के मुख्य पात्र के नाम और विवरण| ramayan k mukhya patra aur vivaran

रामायण,ramayan,ram katha,rawan,. राम कथा
हम लोगो ने रामायण की बात तो बहुत सुनी और धारावाहिक में भी देख भि लिया ।पर क्या आप लोगो को रामायण के मुख्य पात्र के नाम और उनका काम पता है। हमे रामायण के मुख्य  पात्र के बारे में जानना चाहिए और उनसे कुछ सीखना चाहिए। कौन कौन  पात्र है जो रामायण में मुख्य भूमिका निभाते है ।तो चलिए आज के इस लेख में हम इसी विषय पर चर्चा करेंगे।

रामायण के मुख्य पात्र के नाम और विवरण  ramayan k mukhya patra aur vivaran

1.राजा दशरथ : इक्ष्वाकु वंशीय दशरथ महाराजा अज और इंदुमती के पुत्र थे।राजा दशरथ अयोध्या के राजा थे।इनके चार पुत्र थे ।राम ,भरत, लक्ष्मण और शत्रुघ्न।राजा दशरथ की तीन रानियां थीं कौसल्या, सुमित्रा और कैकेयी।

2.कौसल्या: कौशल नरेश की पुत्री कौसल्या राजा दशरथ की सबसे बड़ी पत्नी और राम की माता थी।

3.सुमित्रा: अयोध्या के राजा दसरथ की यह दूसरी पत्नी थी। सुमित्रा के दो पुत्र है लक्ष्मण और शत्रुघ्न।

4:कैकेयी: राजा दसरथ की सबसे छोटी पत्नी। कैकेयी के पुत्र का नाम भरत था। कैकेयी ने ही राजा दशरथ से राम के लिये 14 वर्ष का वनवास और भरत के लिऐ अयोध्या का राज सिन्हासन मागा था।

5.राम: राजा दशरथ के सबसे बड़े पुत्र । राम भगवान विष्णु के अवतार थे।रामायण के मुख्य नायक ।

6.सीता:सीता मिथिला के राजा जनक की पुत्री थी और राम की पत्नी।

‌7.लक्ष्मण: सुमित्रा के जेष्ठ पुत्र और राम के सौतेले भाई। लक्ष्मण राम के परम भक्त थे। इन्होंने ही वीर मेघनाथ का वध  किया था।

8.भरत: कैकेयी के पुत्र जब भरत ननिहाल में थे तब राम को वनवास हुआ था और उनके पिता दसरथ की मृत्यु हुई थी।भरत ने ही राम के चरणपादुका को राज गद्दी पर रखकर राम के प्रतिनिधि के रूप में  राज कार्य किया था।

अकबर बीरबल stories]भगवान कहां है क्यों नहीं दिखाई देता

रामायण,ramayan,ram,hanuman,ramkatha
‌9.शत्रुघ्न: सुमित्रा के दूसरे पुत्र जिस प्रकार लक्ष्मण राम की सेवा करते थे ठीक उसी प्रकार शत्रुघ्न भी भरत के साथ रहते थे।

‌10.जनक: सीता के पिता इन्होंने ही  यह ऐलान किया था कि जो भी कोई इस शिव धनुष को तोड़ेगा उसके साथ सीता का विवाह होगा ।इस प्रण को राम ने पूरा किया था।

‌11.मंथरा:कैकेयी के मायके की दासी इसी की वजह से राम को 14 वर्ष का वनवास हुवा था।

‌12.विस्वामित्र: ताड़का के वध के लिए राम और लक्ष्मण को दसरथ से माँग कर ले गये थे। इनके पिता पुरुवंशी माहराज गाधी थे।

‌13. वशिष्ठ: मित्र और वरुण के पुत्र  और वशिष्ठ अयोध्या के कुलगुरु भी थे।

   Scorpio horoscope love | वृश्चिक राशि प्रेम संबंध-ourbhakti.com

14.अहिल्या: मुद्गल की पुत्री और गौतम ऋषि की पत्नी थी। अपने पति के श्राप के कारण पत्थर होगई थी और भगवान राम ने इनको श्राप मुक्त किया था।

15. ताड़का: रावण की अनुचर दूसरोंको सताना इसका काम था।विस्वामित्र के कहनेपर राम ने इसका वध किया था।

‌16.अगस्त्य: अगस्त्य ऋषि एक महान और शक्ति शालि थे। विंध्याचल पर्बत को पार करके ये दक्षिण भारत चले गये थे।

17.बाली: सुग्रीब का बड़ा भाई और अंगद का पिता  किष्किंधा का राजा ।भगवान राम ने इसका वध किया था।

18.सुग्रीव: बाली का छोटा भाई।राम रावण के युद्ध मे सुग्रीव ने अपने वानर सेना के साथ राम की सहायता की थी।

‌19.हनुमान: अंजनी और वायु  के पुत्र । हनुमान राम के परम भक्त थे।माता सीता की खोज सबसे पहले इन्होंने ही कि थी। लक्ष्मण के लिये संजीवनी बूटी भी यही लाये थे।

‌20. जटायु: जब रावण देवी सीता को हरण करके ले जाराहा था तब जटायु ने देखा था और रावण से युद्ध किया था फिर रावण ने जटायु का वध करदिया ।

Ramayan k patra, रामायण के मुख्य पात्र
किस बार को करे कौन सा काम ?जो हमे सफल बनायें।

‌21.रावण: लंका का राजा ऋषि पुलस्त्य का नाती और विश्रवा का पुत्र।रावण महाज्ञानी, पंडित और महा योद्धा था ।माता सीता का हरण करनेपर भगवान राम ने इसका वध किया था।

‌22.कुम्भकर्ण: रावण का छोटा भाई ।यह महाबलशाली था ।लंका युद्ध मे राम ने इसका वध किया था।

23.मेघनाद: रावण और मंदोदरी का पुत्र ।युद्ध मे लक्ष्मण
‌ को इसीने ही घायल किया था।इंद्र को युद्ध मे हारने के कारण इसका नाम इंद्रजीत हुवा था और लक्ष्मण ने इसका वध किया था।

24.विभीषण:  रावण का भाई और राम का परम भक्त।
‌विभीषण ने ही रावण को मारनेकी गुप्त बात राम को बतायी थी।

25.शुर्पणखा: रावण की बहन। राम और रावण के बीच युद्ध का यही मुख्य कारण थी।लक्ष्मण ने इसके नाक और कान काटे थे।

‌26.मंदोदरी: लंका की रानी और मेघनाद की माता।

रामायण के पात्र,about ramayan,‌27अंगद: बाली का पुत्र।इसने राम और रावण के युद्ध मे भगवान राम की ओर से हिस्सा लिया था।

महाभारत की अनसुनी बातें जो आपको नहीं पता | Very Interesting Untold Stories of Mahabharata


‌28.नल और नील: दोनों  वानर सैनिक थे।इन दोनों के कारण ही समुद्र में सेतु का कार्य सम्पन्न हुआ था।

‌  तो दोस्तों ये थे रामायण के मुख्य पात्र के नाम और काम ध्यान देना यहाँपर हमने सिर्फ मुख्य मुख्य पात्रों के नाम बतायें है और उनका संछिप्त विवरण दियाहै सभीका नही।




रामायण के मुख्य पात्र के नाम और विवरण| ramayan k mukhya patra aur vivaran  रामायण के मुख्य पात्र के नाम और विवरण| ramayan k mukhya patra aur vivaran Reviewed by Ourbhakti on August 27, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.