पति पत्नी में लड़ाई कारण और समाधान

पति पत्नी में लड़ाई कारण और समाधान 


खुशहाल वैवाहिक जीवन के लिए पति और पत्नी में आपसी समझ होना जरूरी है यदि पति और पत्नी के बीच संबंध अच्छे नहीं हैं तो गृहस्थ जीवन नहीं चल सकता, हर प्रकार की सुख सुविधा होते हुए भी पति और पत्नी का जीवन नर्क जैसा लगता है।

पति पत्नी में लड़ाई कारण और समाधान
मन में अनेक प्रकार की चिंताएं आने लगती है बात इस हद तक बढ़ जाती है कि अब नहीं हो सकता अब मुझे अपनी  पत्नी को या पति को तलाक दे देना चाहिए! आखिर क्यों ऐसा होता है हमारे लाख कोशिश करने के बाद भी हम अपनी वैवाहिक जीवन को सही से नहीं चला पाते! पति पत्नी के बीच कभी कभी छोटी सी बात के लिए इतना बड़ा झगड़ा हो जाता है जिसका परिणाम बहुत घातक होता है । आज हम जानेंगे ज्योतिष के अनुसार वह कौन से ग्रह है जो पति पत्नी के बीच झगड़े का मुख्य कारण बनते है। साथ ही यह भी जानेंगे कि पति पत्नी के बीच के झगड़े को कैसे खतम किया जाये।   शादी से पहले ध्यान दें यह मुख्य बातें/before marriage


पति और पत्नी का झगड़ा क्यों होता हैं 


कुंडली में एक मांगलिक हो और दूसरा मांगलिक न हो तो इसमें मांगलिक दोष लगता है जिसके चलते पति पत्नी के बीच झगड़े होना आम बात है। कुंडली के नवा दसवां और ग्यारहवें भाव मैं अग्नि तत्व की मात्रा ज्यादा होती है ऐसी स्थिति में उस भाव में यदि कोई खराब ग्रह बैठा हो पापी ग्रह बैठा हो पति पत्नी में लड़ाई झगड़े होते रहते हैं। अग्नि तत्व की मात्रा ज्यादा होना संबंध खराब होना दर्शाता है। वैवाहिक जीवन के लिए शुक्र ग्रह, मंगल ग्रह, और बृहस्पति ग्रह इन तीनों ग्रहों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है यदि इन तीनों ग्रह की स्थिति  अच्छी नहीं है तो भी पति-पत्नी में झगड़ा होता है। यदि पति और पत्नी में से एक की कुंडली में पूर्ण रूप से मंगल दोष हो पति पत्नी में झगड़ा होता है। यदि जन्मपत्री के अष्टम भाव में कोई पाप ग्रह हो तो भी पति-पत्नी में झगड़ा होना आम बात है। जन्म कुंडली के अष्टम भाव पति-पत्नी के  मेल मिलाप का भाव होता है।
पति पत्नी में लड़ाई कारण और समाधान
पति और पत्नी के रिश्ते को कैसे मजबूत किया जाए?

पति पत्नी के बीच रिश्ते कैसे अच्छे हो दोनों में आपसी संबंध कैसे मजबूत हो इसको जानने से पहले हमें यह जानना होगा की विवाह के रिश्ते को पति पत्नी के संबंध को कौन से ग्रह मजबूत करते हैं कौन से ग्रह अच्छे करते हैं, विवाह के लिए मुख्यतः दो ग्रह जिम्मेदार होते हैं शुक्र और बृहस्पति इन दो ग्रहों का अच्छा होना बहुत जरूरी है। लड़के का विवाह के लिए शुक्र ग्रह  जिम्मेदार होता है तो वही लड़की के लिए बृहस्पति ग्रह जिम्मेदार होता है। इन दोनों ग्रहों को यदि बारीकी से देखा जाए तो शुक्र ग्रह की भूमिका ज्यादा होती है गृहस्थ जीवन के लिए।
                                  हमारे हिंदू धर्म में शादियां कितनी प्रकार की होती हे ?

पति पत्नी के रिश्ते को बिगाड़ने के लिए कौन से ग्रह जिम्मेदार होते हैं


पति और पत्नी के बीच के रिश्ते कोई ग्रह बिगाड़ देता है तो वह है मंगल ग्रह पति पत्नी के रिश्ते में मंगल ग्रह की भी बहुत बड़ी भूमिका रहती है इसीलिए विवाह से पहले और लड़की और लड़की की कुंडली मिलान जरूर करनी चाहिए ताकि भविष्य में समस्या उत्पन्न ना हो।

 राहु ग्रह भी पति और पत्नी के बीच के संबंध को बिगाड़ देता है जब राहु रिश्तो को बिगाड़ देता है तो वह रिश्ते बहुत कम जुड़ पाते हैं राहु बिना कारण ,बेवजह ही रिश्तो को बिगाड़ देता है छोटी-छोटी बातों पर लड़ाई झगड़े करा देता है जैसे मेरी पत्नी अच्छा भोजन नहीं बनाती मेरी पत्नी अच्छी नहीं है मेरा ध्यान नहीं रखती या मेरा पति मुझे घुमाने बाहर नहीं लेकर जाता इन सब छोटी-छोटी बातों को लेकर राहु रिश्तो को बिगाड़ देता है

 रिश्तो को बिगाड़ना शनि ग्रह की भी भूमिका रहती है । शनि विवाह के कुछ समय बाद या कुछ सालों के बाद रिश्तो को बिगाड़ना शुरू कर देता है ।

पत्नी के रिश्तो को बिगाड़ने के लिए और भी ग्रह जिम्मेदार होते हैं बहुत सारे ऐसे योग होते हैं कुंडली में जो पति और पत्नी के रिश्ते को खराब कर देते हैं इसीलिए शादी से पहले कम एक बार तो हमें अपनी कुंडली का मिलान ज्योतिषी से कराना चाहिए।

पति पत्नी समस्या समाधान पति और पत्नी के बीच रिश्तो को कैसे सुधारा जाए?


पति और पत्नी के बीच के संबंध को सुधारने का आसान उपाय यह है सप्ताह में एक बार दोनों पति पत्नी को मंदिर जरूर जाना चाहिए इससे रिश्ते मजबूत होते हैं।

पति और पत्नी को एक साथ बैठकर भोजन करना चाहिए पति और पत्नी के बीच संबंध अच्छे होते हैं

पति और पत्नी के बीच के झगड़े का मुख्य कारण घर का किचन भी होता है । रात में भोजन करने के बाद जूठे  बर्तन नहीं रखना चाहिए और किचन को हमेशा रखना चाहिए जिससे पति पत्नी में रिश्ते अच्छे होते हैं।

शयन कक्ष में रंग बिरंगे फूलों का तस्वीर लगाने से  भी पति और पत्नी के बीच के संबंधों में सुधार होता है।

पति और पत्नी के संबंध को अच्छा करने के लिए रोज गौरी गणेश का पूजन करना चाहिए हर मंगलवार को गणेश को लड्डू का भोग लगाना चाहिए।

यदि पति और पत्नी के बीच के संबंध को अच्छा बनाना है तो हर शनिवार की शाम को और पत्नी मिलकर सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए इससे बहुत जल्दी दोनों में अच्छे संबंध हो जाते हैं। पूजा करते समय रोज ओम नमः शिवाय का जाप जरूर करें इससे भी रिश्तो में मजबूती आ जाती है।

नोट- जिस घर में नित्य पूजा पाठ हवन सत्कर्म आदि होता है उस घर में कभी लड़ाई झगड़े नहीं होते लड़ाई झगड़ा होने का मुख्य कारण यह है कहीं ना कहीं हम अपने धर्म  को भूल रहे हैं इस व्यस्तता भरी जीवन में हम भगवान को याद भी नहीं करते तो हमें दुख होना स्वाभाविक है।

Post a Comment

0 Comments