pukhraj ratna ki jankari | जाने पुखराज रत्न के फायदे और नुक्सान

pukhraj ratna ki jankari | पुखराज  रत्न की सम्पूर्ण जानकारी

पुखराज रत्न देव गुरु बृहस्पति का रत्न है pukhraj ratna गुरु से संबंधित सभी प्रकार की समस्याओं को दूर करता है। पुखराज रत्न एक महंगा रत्न है इसको रत्नों का राजा भी कहते हैं। गुरु ग्रह का यह रत्न सीधे
हमारे बुद्धि पर प्रभाव डालता है हमारे विचारों पर प्रभाव डालता है हमारे सोच पर प्रभाव डालता है हमारे व्यवहारिकता पर प्रभाव डालता है । pukhraj ratna वैसे तो बहुत सारे रंगों में पाया जाता है लेकिन वृहस्पति के लिए जिस रंग का सबसे ज्यादा उपयोग होता है वह एक पीला पुखराज। बृहस्पति ग्रह से लाभ लेने के लिए पीले पुखराज को सोने की अंगूठी में जुड़वा कर तर्जनी उंगली में पहनाया जाता है।
pukhraj ratna ki jankari | जाने पुखराज रत्न के फायदे और नुक्सान
pukhraj ratna ki jankari

pukhraj ratna k labh | पुखराज रत्न  के लाभ

पुखराज रत्न पहनने से हमारे विचार पवित्र होते हैं हमारे अंदर एक आध्यात्मिक ऊर्जा का विकास होता है भय दूर
हो जाता है विचार ज्यादा प्रगतिशील होता हैं उस व्यक्ति को यह पता लग जाता है कि क्या अच्छा है और क्या बुरा। पुखराज रत्न फायदा करें तो व्यक्ति ज्यादा धार्मिक प्रवृत्ति का होता है संस्कारवान होता है अपनों से बड़ों
की इज्जत करता है छोटे बच्चों को प्यार करता है समाज में उसकी प्रतिष्ठा बनी रहती है

pukhraj ratna k nuksan | पुखराज पहनने के नुकसान

पुखराज यदि नुकसान करे तो आपको पेट से संबंधित बीमारियां हो सकती है मोटापा बढ़ जाता है पुखराज वाकई नुकसान करे तो व्यक्ति में संस्कार खत्म हो जाते हैं दूसरों को सताने लगता है हमेशा अपने ही मतलब की बात करता है अपना स्वार्थ पूरा करने के लिए व्यक्ति किसी भी हद तक जा सकता है उसमें धार्मिक कार्य के प्रति बिल्कुल रुचि नहीं रहती।

pukhraj ratna kaun pahane | पुखराज किसको पहनना चाहिए


ध्यान दें हम यहां पर सिर्फ लग्न के हिसाब से बात कर रहे हैं  मेष लग्न वाले पुखराज धारण कर सकते हैं, सिंह, धनु, कर्क, वृश्चिक और मीन वाले पुखराज रत्न को धारण कर सकते हैं फिर भी आप एक बार अपनी कुंडली को किसी ज्योतिष से दिखाये फिर निर्णय ले।

पुखराज किसको नहीं पहना चाहिए

यहां पर लग्न की बात हो रही है राशि कि नहीं मैं फिर बता रहा हूं। वृष कन्या मकर मिथुन तुला कुंभ लग्न वाले
जातक पुखराज रत्न को कभी धारण ना करें। जो ज्यादा मोटे लोग हैं वह भी पुखराज रत्न को धारण ना करें, यदि
आप डिप्रेशन का शिकार हैं तो पुखराज रत्न को भूल कर भी धारण न पहने।

पुखराज के साथ भूल से भी न पहने ये  रत्न 

बहुत बार आप लोगों ने देखा होगा की कई लोग एक ही हाथ में बहुत सारे रत्न धारण करते हैं वह इसलिए पहनते हैं ताकि उन्हें ज्यादा लाभ मिले

पुखराज के साथ हीरा और नीलम भूलकर भी नहीं पहनना चाहिए ठीक इसी तरह पुखराज रत्न के साथ योग्य ज्योतिषी से सलाह लेकर मोती रत्न धारण किया जा सकता है।

रत्नों का हमारे जीवन में बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ता है रत्न हमारे लिए एक वरदान है रत्न हमारे जीवन की हर मुश्किल घड़ी को बदल सकता है हर प्रकार के दुख को सुख में बदल सकता है ऐसी कोई समस्या नहीं जो रत्नों से सुलझाया न जा सके।

बस जरूरत है तो हमें इन रत्नों को बारीकी से समझने की  ऐसे कौन से ग्रह है जिसके कारण हमें इतना तकलीफ हो रहा है परिस्थितियों को देखते हुए  हम रत्न को धारण करें तो निश्चित ही हमारा दुख दूर हो जाएगा।


रत्नों को लेकर लोगों में बहुत सारी भ्रांतियां हैं अब इन भर्तियों को पैदा करने वाले  कुछ नाम मात्र के ज्योतिषी हैं जो यह दावा करते हैं जिसके चलते जो लोग रत्न धारण करते हैं उनको उस रत्न का सही परिणाम नहीं मिलता है जिसके कारण लोगों में भ्रांति पैदा हो रही है।

लोगों में रत्नों पर से धीरे-धीरे विश्वास उठता जा रहा है पहले राजा महाराजा अपने मुकुट में रत्नों को धारण करते थे उनके कुल गुरु या पुरोहित उनको अधिक मात्रा में रत्न धारण करवाते थे इसका कोई न कोई कारण तो रहा होगा उन राजा महाराजा शायद रत्न के महत्व को जानते थे।


पहले  महाराजाओं के पास इतना समय नहीं होता था कि वह अपने लिए बैठकर पूजा पाठ मंत्र आदि का
सहारा ले इसीलिए प्रचुर मात्रा में रत्न को अपने शरीर में धारण किया करते थे।आज का दौर भी ठीक वैसा ही है लोगों के पास खुद के लिए कुछ करने का समय नहीं है वह अपने काम में इतना व्यस्त हैं कि अपने लिए समय निकाल ही नहीं पाते इसीलिए कुछ नाम मात्र के ज्योतिषी पंडित इसका फायदा उठाते हैं और किसी को भी गलत रत्न धारण करवा देते हैं।



 परिणाम स्वरूप उस व्यक्ति को रत्न धारण करने का फल नहीं मिलता है रत्नों को सही तरीके से समझने की जरूरत है रत्न को धारण करने से पहले उस रत्न  के विषय में बारीकी से जानने की जरुरत  है। कई बार ज्योतिषी लोगों को धोखा भी देते हैं रत्नों की जगह ऊप रत्न धारण करवा देते हैं जिससे उस रत्न का  उसे जल्दी फल नहीं मिलता ऊपरत्न उस व्यक्ति को धारण करना चाहिए जिसके पास इतने पैसे नहीं हैं कि वह रत्न धारण कर सकें।

Tag-pukhraj ratna ki jankari,pukhraj ratna ki puri jankari hindi me, pukhraj ratna k phayde aur nuksan



pukhraj ratna ki jankari | जाने पुखराज रत्न के फायदे और नुक्सान pukhraj ratna ki jankari | जाने पुखराज रत्न के फायदे और नुक्सान Reviewed by Ourbhakti on February 17, 2019 Rating: 5

1 comment:

इस लेख से सम्बंधित अपने विचार कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं

Powered by Blogger.